थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें

खराब लाइफस्टाइल के चलते लोगों को कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। थायराइड भी इन्हीं बीमारियों में से एक है। यह बीमारी किसी भी उम्र में किसी को भी हो रही है। वैसे तो यह बीमारी 5 तरह की होती है लेकिन ज्यादातर लोग हाइपो थायरॉइड और हाइपर थायरॉइड से पीड़ित होते हैं। खास बात यह है कि पुरुषों से ज्यादा महिलाएं इस बीमारी से पीड़ित हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बताएंगे जिन्हें आपको अपनी डाइट में बिल्कुल भी शामिल नहीं करना चाहिए। थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें। इसके साथ ही हम आपको बढ़े हुए थायराइड के लक्षण भी बताते हैं।

थायराइड के लक्षण

  • घबराहट होना
  • चिड़चिड़ापन
  • ज्यादा पसीना आना
  • हाथों का कांपना
  • हेयर फॉल बहुत होना
  • नींद ना आना

थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें

थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें
थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें

ऐसा कहा जाता है कि जैसे एक सही आहार आपकी समस्याओं को दूर करता है। ठीक उसी तरह कुछ गलत बातें आपकी छोटी-छोटी समस्याओं को बड़ी समस्याओं में बदल देती हैं। इसलिए, आपको क्या नहीं खाना चाहिए, इससे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि आपको क्या खाना चाहिए। आइए जानते हैं थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें।

1. सोयाबीन

थायराइड की स्थिति में भी सोयाबीन उत्पादों का सेवन नहीं करना चाहिए। हालांकि इसमें आयोडीन नहीं होता है, लेकिन हाल ही में टोफू को लेकर कई अध्ययन किए गए हैं। इन अध्ययनों से पता चलता है कि सोयाबीन थायराइड की स्थिति को खराब कर सकता है। इसलिए इसके सेवन से पूरी तरह परहेज करें।

2. आयोडीन युक्त पदार्थ

अगर आप थायरॉइड से जुड़ी किसी समस्या से जूझ रहे हैं तो यह जरूरी है कि आप आयोडीन युक्त खाद्य पदार्थों का कम से कम सेवन करें या बिल्कुल भी न करें। क्योंकि अगर आप आयोडीन से भरपूर पदार्थों का सेवन करते हैं, तो इससे ग्रेव्स डिजीज नामक एक ऑटोइम्यून स्थिति हो जाती है। इसलिए आयोडीन युक्त पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए, जैसे दूध, पनीर, अंडे की जर्दी और मक्खन आदि।

इसे भी जानें :- हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण

3. कैफीनयुक्त पेय पदार्थ

आमतौर पर घरों या दफ्तरों में लोग चाय, कॉफी या चॉकलेट का सेवन करते हैं, जिसमें कैफीन होता है। इनके सेवन से घबराहट, चिड़चिड़ापन और हृदय गति में वृद्धि हो सकती है। जो हाइपरथायरायडिज्म की स्थिति के लक्षणों को बढ़ाने का काम कर सकता है।

4. ग्लूटेन युक्त सामग्री

थायराइड की समस्या से परेशान व्यक्ति को ग्लूटेन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। दरअसल, इससे रोगी को शरीर में सूजन और एलर्जी की समस्या हो सकती है। आमतौर पर घर के अंदर इस्तेमाल किया जाता है, गेहूं के माल्ट और खमीर में ग्लूटेन होता है। इसलिए ऐसे पदार्थों से दूर रहें।

5. धूम्रपान करना

सिगरेट में मौजूद कई प्रकार के केमिकल थायराइड के लिए विशेष रूप से हानिकारक होते हैं। धूम्रपान से थायराइड नेत्र रोग के विकास की संभावना बढ़ जाती है, और धूम्रपान थायरॉयड नेत्र रोग के उपचार को कम प्रभावी बनाता है।

यह भी जानें:- हाइट कैसे बढ़ाये पूरी जानकारी हिन्दी में

6. शराब

शराब, यानी शराब, बीयर आदि शरीर में ऊर्जा के स्तर को प्रभावित करते हैं। इससे थायराइड की समस्या वाले लोगों की नींद में समस्या की शिकायत बढ़ जाती है। इसके अलावा ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा भी बढ़ जाता है।

7. वनस्पति घी

इसके माध्यम से हाइड्रोजन पास करके वनस्पति घी बनाया जाता है। यह अच्छे कोलेस्ट्रॉल को खत्म करता है और बुरे को बढ़ावा देता है। थायरॉइड बढ़ने से जो समस्याएं होती हैं, वह उन्हें और बढ़ा देती हैं। ध्यान रहे कि खाने-पीने की दुकानों में इस घी का खूब इस्तेमाल होता है। इसलिए बाहर का तला हुआ खाना न खाएं।

Disclaimer : यह लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए हैं। यहाँ पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए। चिकित्सा परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए। HindiQueries.Com इस जानकारी की जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Conclusion

मैं उम्मीद करता हूँ कि अब आप लोगों को थायराइड के मरीज को कभी नहीं करनी चाहिए ये 7 चीजें से जुड़ी सभी जानकरियों के बारें में पता चल गया होगा। यह लेख आप लोगों को कैसा लगा हमें कमेंट्स बॉक्स में कमेंट्स लिखकर जरूर बतायें। साथ ही इस लेख को दूसरों के जरूर share करें, ताकि सबको इसके बारे में पता चल सके। धन्यवाद!

Leave a Comment

x