Sagwan Farming : शुरू करें सागवान की खेती होगी करोड़ों की कमाई, यहाँ जानें कीमत से लेकर खेती का तरीका

Sagwan Farming Business Ideas : आज हम आपको एक शानदार बिजनेस प्लान के बारे में बताने जा रहें हैं। जिसे आप अपने ग्रामीण क्षेत्र में रहकर कर सकतें हैं। और घर बैठे करोड़ों रूपये की कमाई कर सकते हैं।

Sagwan Farming Business
Sagwan Farming Business

Sagwan Farming Technique : सागवान की एक एकड़ की खेती से 1 करोड़ रुपये की कमाई आराम से की जा सकती है सागवान के पेड़ से किसान चाहें तो करोड़ों में कमाई कर सकते हैं आइए जानते हैं इसकी खेती के तरीके के बारे में…

सागवान की खेती की लागत और लाभ

सागवान की लकड़ी को सबसे मजबूत और सबसे महंगी लकड़ियों में गिना जाता है। इस फर्नीचर से प्लाईवुड बनाया जाता है। इसके अलावा सागौन का उपयोग दवा बनाने में भी किया जाता है। इसकी लंबे समय तक चलने की क्षमता के कारण बाजार में इसकी मांग हमेशा बनी रहती है। सागौन की लकड़ी में बहुत कम सिकुड़न होती है। साथ ही यह बहुत जल्दी पॉलिश भी हो जाती है।

एक आंकड़े के मुताबिक देश में हर साल 180 करोड़ क्यूबिक फीट सागौन की लकड़ी की जरूरत होती है, लेकिन हर साल 90 मिलियन क्यूबिक फीट की ही पूर्ति हो पाती है। यानी फिलहाल 5 फीसदी ही पूरा हो रहा है, 95 फीसदी बाजार अभी भी खाली है। दिलचस्प बात यह है कि सागौन की खेती में जोखिम बहुत कम और मुनाफा ज्यादा होता है।

सागवान के लिए खेत में कितनी दूरी है

सागवन का पौधा 8 से 10 फीट की दूरी पर लगाया जा सकता है। ऐसे में अगर किसी किसान के पास 1 एकड़ खेत है तो वह उसमें लगभग 500 सागौन के पौधे लगा सकता है। सागौन के लिए 15°C से 40°C का तापमान अनुकूल माना जाता है। इसके लिए नमी वाले क्षेत्र फायदेमंद होते हैं। जानकारी के अनुसार सागौन की खेती बर्फीले इलाकों या रेगिस्तानी इलाकों में नहीं की जा सकती है। इसके लिए जलोढ़ मिट्टी को बेहतर माना जाता है।

कौन सा मौसम उपयुक्त है सागवान की बुवाई के लिए?

सागवान की बुवाई के लिए प्री-मानसून का मौसम सबसे अनुकूल माना जाता है। इस मौसम में पौधा लगाने से उसका विकास तेजी से होता है। शुरूआती वर्षों में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। पहले वर्ष में तीन बार, दूसरे वर्ष में दो बार और तीसरे वर्ष में एक बार खेत की सफाई करना आवश्यक है।

सफाई के दौरान खेत से खरपतवारों को पूरी तरह से हटा देना चाहिए। सागवान के पौधे की वृद्धि के लिए सूर्य का प्रकाश अत्यंत आवश्यक है। ऐसे में पौधे लगाते समय इस बात का ध्यान रखें कि पर्याप्त रोशनी खेत तक पहुंच सके। पेड़ के तने की नियमित छंटाई और सिंचाई से पेड़ की चौड़ाई तेजी से बढ़ती है।

जानवरों से कोई डर नहीं सागवान के पेड़ को

इसके के पत्तों में कड़वाहट और तेलीयता होती है, इसलिए जानवर इसे खाना पसंद नहीं करते हैं। साथ ही अगर पेड़ की ठीक से देखभाल की जाए तो उसे कोई बीमारी नहीं होती और यह 10 से 12 साल में बिना किसी परेशानी के तैयार हो जाता है।

सागवान का पेड़ कई सालों तक देता है मुनाफा

हालांकि किसान चाहें तो इसे लंबे समय तक खेत में रख सकते हैं। 12 साल बाद यह पेड़ समय के साथ मोटा होता जाता है, जिससे पेड़ का मूल्य भी बढ़ता रहता है। साथ ही किसान एक ही पेड़ से कई सालों तक मुनाफा कमा सकते हैं। सागवान का पेड़ एक बार काटने के बाद फिर से बढ़ता है और फिर से काटा जा सकता है। ये पेड़ 100 से 150 फीट ऊंचे होते हैं।

सागवान से करोड़ों की कमाई

किसान चाहें तो सागौन के पेड़ से करोड़ों में कमा सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि कोई किसान एक एकड़ में 500 सागौन के पेड़ लगाता है, तो 12 साल बाद वह उसे लगभग एक करोड़ रुपये में बेच सकता है। बाजार में एक 12 साल पुराने सागवान के पेड़ की कीमत 25 से 30 हजार रुपये के बीच है और इसकी कीमत समय के साथ बढ़ने की संभावना है। ऐसे में एक एकड़ की खेती से आराम से एक करोड़ रुपए कमाए जा सकते हैं।

More Business Ideas in Hindi

Leave a Comment

x
बिपिन रावत के बारे में 10 ऐसी बाते जो आप नहीं जानते! लेफ़्टिनेंट जनरल अनिल चौहान के बारे में 10 ऐसी बाते जो आप नहीं जानते! एकता कपूर के बारे में 10 ऐसी बाते जो आप नहीं जानते! 10 Facts You Didn’t Know About Katie Couric (American Journalist) 10 Facts You Didn’t Know About Ana de Armas