IAS Salary 2021: यहाँ जानें कितनी होती है IAS Officer की Salary

IAS Salary 2021: भारत में होने वाली सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक UPSC परीक्षा में हर साल लाखों छात्र शामिल होते हैं। भारतीय प्रशासनिक सेवा में शामिल होने की होड़ लगातार बढ़ती जा रही है। चूंकि इस परीक्षा (UPSC Exam) में बड़ी संख्या में उम्मीदवार उपस्थित होते हैं, इसलिए IAS अधिकारी बनने वालों की संख्या बहुत कम है। यही कारण है कि यह भारत में सबसे लोकप्रिय पेशे में से एक है।

IAS Salary
IAS Salary 2021

हर साल लाखों युवा IAS अधिकारी बनने का सपना देखते हैं और इसके लिए कड़ी मेहनत भी करते हैं। इस परीक्षा में अधिक प्रतिस्पर्धा का मुख्य कारण यह है कि इसे क्लियर करने के बाद आपको जो पद मिलता है वह एक सम्मानजनक पद होता है और इसमें वेतन और सुविधाएं बहुत अच्छी होती हैं। आइए यहां बताते हैं कि एक आईएएस ऑफिसर को कौन-कौन सी सुविधाएं मिलती हैं? और उनकी सैलरी कितनी है?

आईएएस ऑफिसर के कार्य (IAS Officer Job)

सैलरी के बारे में जानने से पहले यह जान लें कि एक आईएएस ऑफिसर को क्या करना होता है। सिविल सेवा परीक्षा में शीर्ष रैंक प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों को आईएएस बनाया जाता है। IAS Officer संसद में बने कानूनों को अपने क्षेत्रों में लागू करवाते हैं। इसके साथ ही ये नई नीतियां या कानून बनाने में भी अहम भूमिका निभाते हैं। आईएएस अधिकारी कैबिनेट सचिव, अवर सचिव आदि भी बन सकते हैं।

आईएएस ऑफिसर की सैलरी (IAS Salary 2021)

7वें वेतन आयोग के अनुसार एक IAS अधिकारी का मूल वेतन 56100 है। जैसे-जैसे पदोन्नति होती है, वेतन भी बढ़ता रहता है। एक आईएएस अधिकारी का वेतन विभिन्न संरचनाओं पर आधारित होता है, जैसे कि जूनियर स्केल, सीनियर स्केल, सुपर टाइम स्केल, वेतनमान में अलग-अलग पे बैंड होते हैं। वहीं अगर कोई आईएएस अधिकारी कैबिनेट सचिव के पद पर पहुंचता है तो उसकी सैलरी 2,50,000 रुपये प्रति माह तक पहुंच जाती है।

यह भी जानें: SBI Clerk Salary 2021 : एसबीआई क्लर्क सैलरी के बारे में जानें पूरी जानकारी

आईएएस ऑफिसर को मिलने वाली सुविधायें (Facilities Available to IAS officer)

IAS Salary स्ट्रक्टचर को 8 ग्रेड में विभाजित किया गया है। प्रत्येक ग्रेड का एक फिक्सड बेसिक-पे और ग्रेड-पे होता है। सैलरी में बेसिक पे, ग्रेड पे, महंगाई भत्ता (Dearness Allowance (DA), हाउस रेंट अलाउंस (House Rent Allowance (HRA), चिकित्सा भत्ता (Medical Allowance), वाहन भत्ता (Conveyance Allowance) शामिल हैं।

DA पोस्टिंग के शहर पर निर्भर करता है और यह शहर से शहर में भिन्न होता है। इसी तरह एचआरए भी आईएएस अधिकारी के आवास पर निर्भर करता है। यदि वह सरकार द्वारा प्रदान की गई आवास सुविधा का लाभ उठा रहा है तो वह एचआरए का हकदार होगा। सभी भत्ते अधिकारी से अधिकारी में भिन्न होते हैं।

महंगाई भत्ता (DA) IAS वेतन का सबसे महत्वपूर्ण घटक है और इसे सरकार द्वारा समय-समय पर बढ़ाया जाता है। इसे मूल वेतन का 103 फीसदी कर दिया गया है। केंद्र सरकार समय-समय पर कर्मचारियों के डीए में संशोधन करती है। एचआरए मूल वेतन के 8% से 24% तक होता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

1. IAS अधिकारी का वेतन कितना होता है?

7वें वेतन आयोग (7th Pay Commission) के अनुसार किसी भी IAS अधिकारी का बैसिक सैलरी 56100 रुपये है। इसके अलावा उन्हें यात्रा भत्ता और महंगाई भत्ता समेत कई अन्य भत्ते भी मिलते हैं। भत्ता मिलाकर कुल सैलरी 1 लाख रुपये प्रति माह से ज्यादा ही होती है।

2. आईएएस का प्रमोशन कैसे होता है?

IAS अधिकारियों की जॉइनिंग के समय महंगाई भत्ता (DA) 0% निर्धारित है जो की समय के साथ बढ़ाया जाता है। सभी IAS अधिकारियों का वेतन एक ही स्तर पर शुरू होता है और फिर उनके कार्यकाल और पदोन्नति के साथ बढ़ता है। प्रवेश स्तर पर मूल वेतन प्रत्येक वर्ष प्रारंभिक स्तर पर 3% बढ़ जाता है। कैबिनेट सचिव स्तर पर, यह तय है।

अन्य जानकारियाँ

मैं उम्मीद करता हूँ कि अब आप लोगों को आईएएस ऑफिसर की सैलरी (IAS Salary 2021) से जुड़ी सभी जानकरियों के बारें में पता चल गया होगा। यह लेख आप लोगों को कैसा लगा हमें कमेंट्स बॉक्स में कमेंट्स लिखकर जरूर बतायें। साथ ही इस लेख को दूसरों के जरूर share करें, ताकि सबको इसके बारे में पता चल सके। धन्यवाद!

Leave a Comment

x