PM Mitra Yojana : अब सबको मिलेगा लाखों का रोजगार, जानें कैसे?

PM Mitra Scheme in Hindi : पीएम मित्र योजना (PM Mitra Yojana) के तहत एक इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल वैल्यू चेन बनाने का निर्णय लिया गया है। इसमें अगले 5 साल में 4445 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके तहत देश में 7 टेक्सटाइल पार्क बनाए जाएंगे। इससे 7 लाख लोगों को प्रत्यक्ष और 14 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

इसके लिए राज्यों से बातचीत की जा रही है। ये पार्क राज्य में स्थापित किए जाएंगे जिससे सस्ती जमीन, पानी और श्रम आसानी से उपलब्ध हो जाएगा। यह भी देखा जाएगा कि टेक्सटाइल की मांग भी है। कुछ नए पार्क होंगे और कुछ पुराने पार्क हो सकते हैं, जो प्रगति पर हैं। इस लेख में हम आपको पीएम मित्र योजना (PM Mitra Yojana) के बारे में विस्तार में जानकारी देने वाले हैं।

PM Mitra Yojana
पीएम मित्र योजना (PM Mitra Yojana)

पीएम मित्र योजना 2021 (PM Mitra Scheme in Hindi)

योजना का नामपीएम मित्र योजना (PM Mitra Yojana)
लांच किया गयाअक्टूबर, 2021
किसने किया लांचकेंद्र सरकार ने
योजना का बजट4445 करोड़ रुपये
योजना का उद्देश्यबड़े पैमाने पर कपड़े का उत्पादन और रोजगार के अवसर पैदा करना
कुल रोजगारलगभग 21 लाख
किस राज्य को होगा लाभदेश के सभी राज्यों को
अधिकारिक वेबसाइटhttp://texmin.nic.in/

पीएम मित्र योजना क्या है? (What is PM Mitra Yojana in Hindi)

पीएम मित्र योजना (PM Mitra Yojana) का उद्देश्य बड़े पैमाने पर कपड़ा उद्योग को बढ़ावा देना है। इस योजना के तहत न केवल कपड़ों का उत्पादन किया जाएगा बल्कि इसकी आपूर्ति भी बढ़ाई जाएगी। इस योजना के तहत रोजगार के अवसर भी सृजित होंगे, सरकार का मानना ​​है कि योजना के पूरी तरह से लागू होने के बाद सात लाख से अधिक लोगों को सीधे रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे। वहीं 14 लाख से ज्यादा लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

इसमें करीब 4445 करोड़ रुपये खर्च होंगे। पीयूष गोयल ने बताया कि गुजरात के समय से ही पीएम मोदी इस योजना के बारे में सोचते थे। इसके तहत देश भर में 7 टेक्सटाइल पार्क (7 textile park in india) लगेंगे, जिनसे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 20 लाख से भी अधिक लोगों को रोजगार (employment by pm mitra scheme) मिलेगा।

पीएम मित्र योजना के लाभ (Benefits of PM Mitra Yojana)

पीएम मित्र योजना (PM Mitra Scheme) के तहत सरकार न केवल कपड़ों का उत्पादन बढ़ा रही है बल्कि हमारे देश की आर्थिक व्यवस्था को भी मजबूत करने का प्रयास कर रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लागू की गई इस योजना के तहत लोगों को ऐसे मिलेगा लाभ-

1. इस योजना के तहत बड़े टेक्सटाइल पार्क स्थापित किए जाएंगे, जिससे भारत में कपड़ा उद्योग बढ़ेगा, जिससे देश की आर्थिक व्यवस्था में सुधार होगा।

2. इस योजना का सबसे बड़ा लाभ आम नागरिक को मिलेगा क्योंकि लोगों को इस योजना के तहत स्थापित होने वाली कंपनियों में काम करना होगा। इससे 7 लाख लोगों को प्रत्यक्ष और 14 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

3. इस योजना के लागू होने के बाद जब भारत में कपड़ों का बड़े पैमाने पर उत्पादन होगा तो भारत भी कपड़ा उत्पादन के क्षेत्र में अन्य देशों के साथ प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम होगा।

4. देश में इतने बड़े पैमाने पर कपड़े के उत्पादन से देश के हर गांव और शहर को फायदा होगा, साथ ही लोगों की जीवनशैली में भी सुधार होगा।

पीएम मित्र योजना बजट (PM Mitra Yojana Budget)

पीएम मित्र योजना (PM Mitra Scheme) के अंतर्गतकेंद्र ग्रीन फील्ड पार्क को बनाने में 500 करोड़ रुपए और ब्राउनफील्ड पार्क बनाने में 200 करोड़ रुपए खर्च करेंगे। इसके अतिरिक्त कपड़ों का निर्माण करने हेतु फैक्ट्री की स्थापना भी जल्द ही की जाएगी और फैक्ट्री की स्थापना करने के लिए 300 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

PM Mitra Scheme News

कैबिनेट ने आज पीएम मित्र योजना को मंजूरी दे दी है, जिस पर गुजरात के समय से ही प्रधानमंत्री सोचा करते थे। इसके तहत देश भर में 7 टेक्सटाइल पार्क (7 textile park in india) लगेंगे, जिनसे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 20 लाख से भी अधिक लोगों को रोजगार (employment by pm mitra scheme) मिलेगा। ये स्कीम 5 एफ (5F) को कैप्चर करेगी यानी फार्म से फाइबर, फाइबर से फैक्ट्री, फैक्ट्री से फैशन और फैशन से फॉरेन।

पीयूष गोयल ने कहा कि काफी पहले से ये कहा जा रहा है कि भारत को 5 एफ को कैप्चर करना चाहिए। यानी फार्म से फाइबर, फाइबर से फैक्ट्री, फैक्ट्री से फैशन और फैशन से फॉरेन। पूरी वैल्यू चेन को भारत में मजबूत बनाना चाहिए और भारत इसकी सेवा दुनिया को दे, लेकिन अभी ये सब अलग-अलग है।

कॉटन गुजरात और महाराष्ट्र में पैदा होता है, वहां से तमिलनाडु जाता है, जहां स्पिनिंग होती है। प्रोसेसिंग के लिए राजस्थान, गुजरात जाता है, गारमेंटिंग दिल्ली एनसीआर, बेंगलुरु, कोलकाता में होती है और निर्यात के लिए मुंबई और कांडला जाना पड़ता है। ये सारा कुछ अब इंटीग्रेटेड तरीके से हो सकेगा।

पीएम मित्र योजना टैक्सटाइल पार्क सुविधा (PM Mitra Scheme Textile Park Facility)

टेक्सटाइल पार्क में आपको इनक्यूबेशन सेंटर (Incubation Center) और प्लग एंड प्ले की सुविधा, विकसित फैक्ट्री साइट, सड़कें, बिजली, पानी और अपशिष्ट जल प्रणाली, कॉमन प्रोसेसिंग हाउस और डिजाइन सेंटर, टेस्टिंग सेंटर जैसी अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध कराई जायेंगी।

इतना ही नहीं इस टेक्सटाइल पार्क में वर्कर्स हॉस्टल और हाउसिंग, लॉजिस्टिक्स पार्क, वेयरहाउसिंग, मेडिकल सुविधाएं भी मुहैया कराई जायेंगी। इस टेक्सटाइल पार्क के 50% हिस्से में निर्माण कार्य, 20% भाग में उपयोगिता कार्य और 10% भाग में विकास कार्य किया जायेगा।

इस योजना के तहत उस पार्क में कपड़े को काटा, बनाया, रंगा जाएगा जो एक ही स्थान पर होगा। इस योजना के तहत दुनिया के सबसे अच्छे और महंगे उपकरण का इस्तेमाल कपड़ा बनाने में किया जाएगा। जब यह योजना पूरी तरह से लागू हो जाएगी, तो कपड़ों के उत्पादन की एक पूरी श्चेन तैयार हो जायेगी।

Frequently Asked Questions About PM Mitra Yojana

1. पीएम मित्र योजना को किसने लागू किया है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी।

2. पीएम मित्र योजना का बजट कितना है?

इसमें अगले 5 साल में 4445 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

3. पीएम मित्र योजना के अंतर्गत किस तरह के पार्क की स्थापना की जाएगी?

इसके तहत देश में 7 टेक्सटाइल पार्क बनाए जाएंगे। इससे 7 लाख लोगों को प्रत्यक्ष और 14 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

मैं उम्मीद करता हूँ कि अब आप लोगों को पीएम मित्र योजना (PM Mitra Yojana) से जुड़ी सभी जानकरियों के बारें में पता चल गया होगा। यह लेख आप लोगों को कैसा लगा हमें कमेंट्स बॉक्स में कमेंट्स लिखकर जरूर बतायें। साथ ही इस लेख को दूसरों के जरूर share करें, ताकि सबको इसके बारे में पता चल सके। धन्यवाद!

यह भी पढ़ें

Leave a Comment

x