बिपिन रावत का जीवन परिचय, निधन | Bipin Rawat Biography in Hindi

जनरल बिपिन रावत की जीवनी, कहानी, निबंध, मृत्यु, निधन, मौत, (General Bipin Rawat Biography in hindi, Bipin Rawat Story in Hindi, Wife, Death, Bipin Rawat news, General Bipin Rawat, Bipin Rawat dead, CDS Bipin Rawat news)

बिपिन रावत का जीवन परिचय (Bipin Rawat Biography in Hindi)
बिपिन रावत का जीवन परिचय (Bipin Rawat Biography in Hindi)

बिपिन रावत का जीवन परिचय (Bipin Rawat Biography in Hindi)

बिपिन रावत भारतीय सेना के चार सितारा जनरल हैं। वह भारत के पहले और वर्तमान चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) हैं। बिपिन लक्ष्मण सिंह रावत का जन्म 16 मार्च 1958 को पौड़ी, उत्तराखंड, भारत में हुआ था। उन्हें भारतीय सशस्त्र बलों के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में जाना जाता है।

जनरल बिपिन रावत का जन्म 16 मार्च 1958 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के एक क्षत्रिय परिवार में हुआ था। उनका परिवार चौहान राजपूत परिवार से था और उनकी माता परमार क्षत्रिय वंश की थीं। जनरल बिपिन रावत के पिता लक्ष्मण सिंह रावत सेना से लेफ्टिनेंट जनरल रह चुके हैं। जनरल रावत ने अपने करियर की शुरुआत 1978 में सेना की 11वीं गोरखा राइफल की 5वीं बटालियन से की थी।

कल तक (7 दिसम्बर 2021) लोग बिपिन रावत को 27वें थल सेना प्रमुख के रूप में जानते थे, लेकिन अब वह इस पद से सेवानिवृत्त हो चुके हैं। उन्हें और भी बड़ा पद मिलना है और ऐसा भारतीय इतिहास में पहली बार हो रहा है। बिपिन रावत को देश का पहला सीडीएस अधिकारी यानी चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनाया गया है। यह पद आज से पहले किसी को नहीं मिला।

CDS का काम थल सेना, वायु सेना और नौसेना के बीच समन्वय स्थापित करना है। सीधे शब्दों में कहें तो वह रक्षा मंत्री के प्रमुख सलाहकारों में से होंगे और वह तीनों सेनाओं को निर्देश देंगे, हालांकि उनका काम किसी भी सैन्य गतिविधि में हस्तक्षेप करना नहीं है। यह केवल तीनों सेनाओं के बीच समन्वय का काम करेगा। आज हम इस लेख में बिपिन रावत के जीवन के बारे में बताने जा रहे हैं।

नाम (Name)बिपिन रावत
पूरा नाम (Full Name)बिपिन लक्ष्मन सिंह रावत
प्रसिद्द (Famous For)भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ
जन्म तारीख (Date of birth)16 मार्च 1958
उम्र (Age)63 वर्ष (मृत्यु तक)
मृत्यु की तारीख (Date of Death)8 दिसंबर 2021
जन्म स्थान (Place of born)पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड , भारत
मृत्यु की जगह (Place of Death)कुन्नूर, तमिलनाडु
मृत्यु की वजह (Reason of Death)उन्हें, उनकी पत्नी और 11 अन्य लोगों को लेकर जा रहा भारतीय वायुसेना का एक हेलिकॉप्टर तमिलनाडु में कुन्नूर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी।
शिक्षा (Education)• रक्षा सेवा स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन से एमफिल की डिग्री
• मद्रास विश्वविद्यालय से प्रबंधन और कंप्यूटर अध्ययन में डिप्लोमा
• 2011 में चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ से डॉक्टरेट ऑफ फिलॉसफी
स्कूल (School )• कैम्ब्रियन हॉल स्कूल, देहरादून
• सेंट एडवर्ड स्कूल, शिमला
कॉलेज (Collage)• राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खडकवासला
• भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून
• रक्षा सेवा स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन
• यूनाइटेड स्टेट्स आर्मी कमांड और जनरल स्टाफ कॉलेज, फोर्ट लीवेनवर्थ, कंसास
• मद्रास विश्वविद्यालय
• चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ
आदेश (Commands)• दक्षिणी कमान III कोर
• 19वीं इन्फैंट्री डिवीजन
• मोनुस्को उत्तर किवु ब्रिगेड
• राष्ट्रीय राइफल्स, सेक्टर 5
सर्विस / ब्रांच ( Army Service/Branch)भारतीय आर्मी
सर्विस के साल (Service-Years)16 दिसंबर 1978 – 8 दिसंबर 2021 ( मृत्यु तक)
यूनिट (Unit)5/11 गोरखा राइफल्स
पेशा (Profession)  CDS
लम्बाई (Height)5 फीट 8 इंच
वजन (Weight)75 कि० ग्रा०
बालो का रंग (Hair Color)भूरा
आँखों का रंग (Eye Color)काला
धर्म/जाति (Religion/Caste)हिन्दू/क्षत्रिय
नागरिकता (Nationality)भारतीय
वेतन (Salary)रु. 500,000/माह + अन्य भत्ते

बिपिन रावत टुडे न्यूज़ (Bipin Rawat Today News)

सीडीएस जनरल बिपिन रावत के फैंस के लिए आज की सुबह (8 दिसम्बर 2021) एक दुखद खबर लेकर आई है। तमिलनाडु में सीडीएस जनरल बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर से पूरी दुनिया स्तब्ध है। उनके फैंस और फॉलोअर्स यहां-वहां कंफर्मेशन ढूंढ रहे हैं और उनके अच्छे स्वास्थ्य की दुआ कर रहे हैं।

खबर के मुताबिक, बुधवार को तमिलनाडु के कुन्नूर में भारतीय वायुसेना का एक हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। चॉपर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत भी थे और खबरों के मुताबिक इस घटना में 11 लोगों की पहले ही मौत हो चुकी है।

बिपिन रावत का परिवार (Bipin Rawat Family)

जनरल रावत की पत्नी का नाम मधुलिका था, वह आर्मी वाइफ्स वेलफेयर एसोसिएशन (AWAA) की अध्यक्ष भी थीं। उनकी पत्नी मधुलिका मध्य प्रदेश के शहडोल की रहने वाली थीं और दिवंगत राजनेता मृगेंद्र सिंह की बेटी थीं। मधुलिका रावत ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से साइकोलॉजी की पढ़ाई की है। आवा के अलावा वह कई तरह से सामाजिक कार्यों के अलावा कैंसर पीड़ितों के लिए भी काम करती थीं।

वह जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत की दो बेटियों के माता-पिता थे। उनके बड़े के बारे में बहुत कम जानकारी मिली है, जिनका नाम कृतिका रावत है, जो मुख्य रूप से बिपिन रावत की बेटियां हैं। लेकिन बिपिन रावत की दोनों बेटियां अपने पिता की शान थीं।

पिता का नाम (Father’s Name)लक्ष्मण सिंह रावत
माता का नाम (Mother’s Name)ज्ञात नहीं
पत्नी का नाम (Wife ’s Name)मधुलिका रावत
बच्चो का नाम (Children ’s Name)2 बेटिया – कृतिका रावत
उनकी 1 और बेटी है

जनरल बिपिन रावत का पद और नियुक्ति की तारीख

पदनियुक्ति की तारीख
सेकंड लेफ्टिनेंट 16 दिसंबर 1978
लेफ्टिनेंट16 दिसंबर 1980
कैप्‍टन31 जुलाई 1984
मेजर16 दिसंबर 1989
लेफ्टिनेंट कर्नल01 जून 1998
कर्नल01 अगस्त 2003
ब्रिगेडियर01 अक्टूबर 2007
मेजर जनरल20 अक्टूबर 2011
लेफ्टिनेंट जनरल01 जून 2014
जनरल (सीओएएस)1 जनवरी 2017
सीडीएस30 दिसंबर 2019

अपने चार दशकों की सेवा के दौरान जनरल रावत ने एक ब्रिगेड कमांडर, जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ (जीओसी-सी) दक्षिणी कमान, सैन्य संचालन निदेशालय में जनरल स्टाफ ऑफिसर ग्रेड 2, कर्नल सैन्य सचिव और उप सैन्य सचिव के रूप में कार्य किया है। जूनियर कमांड विंग में सैन्य सचिव की शाखा और वरिष्ठ प्रशिक्षक। वह संयुक्त राष्ट्र शांति सेना का भी हिस्सा रहे हैं और उन्होंने कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में एक बहुराष्ट्रीय ब्रिगेड की कमान संभाली थी।

गोरखा ब्रिगेड से सीओएएस बनने वाले चौथे अधिकारी बनने से पहले रावत थल सेनाध्यक्ष बने. उन्होंने पूर्वोत्तर में आतंकवाद को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, जिसमें उनके करियर का एक मुख्य आकर्षण म्यांमार में 2015 का सीमा पार ऑपरेशन था, जिसमें भारतीय सेना ने एनएससीएन-के आतंकवादियों द्वारा घात लगाकर सफलतापूर्वक जवाब दिया था। यह मिशन रावत की देखरेख में दीमापुर स्थित III कोर के ऑपरेशन कमांड से चलाया गया था।

जनरल रावत 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक की योजना का भी हिस्सा था, जिसमें भारतीय सेना नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में चली गई थी। रावत नई दिल्ली में साउथ ब्लॉक से घटनाक्रम की निगरानी कर रहे थे। अपनी सेवा के दौरान, जनरल रावत को परम विशिष्ट सेवा पदक, उत्तम युद्ध सेवा पदक, अति विशिष्ट सेवा पदक, विशिष्ट सेवा पदक, युद्ध सेवा पदक और सेना पदक से अलंकृत किया गया है।

बिपिन रावत के पुरस्कार एवं उपलब्धिया (Bipin Rawat Awards & Achievement)

साल 2019 में संयुक्त राज्य अमेरिका की अपनी यात्रा पर, जनरल रावत को यूनाइटेड स्टेट्स आर्मी कमांड और जनरल स्टाफ कॉलेज इंटरनेशनल हॉल ऑफ फ़ेम में शामिल किया गया था। वह नेपाली सेना के मानद जनरल भी हैं। आईये जानते है उनकी उपलब्धियो के बारे में

  • परम विशिष्ट सेवा मेडल
  • उत्तम युद्ध सेवा मेडल
  • अति विशिष्ट सेवा मेडल
  • युद्ध सेवा मेडल
  • सेना मेडल
  • विशिष्ट सेवा मेडल
  • सीओएएस कमेंडेशन
  • आर्मी कमांडर कमेंडेशन

यह भी पढ़ें: तेजस्वी प्रकाश का जीवन परिचय

बिपिन रावत का जीवन परिचय – FAQs

1. विपिन रावत कौन थे?

तीय सेना के चार सितारा जनरल थे।

2. बिपिन रावत की जाति क्या है?

बिपिन रावत की जाति हिंदू गढ़वाली राजपूत है।

3. जनरल बिपिन रावत का जन्म कब हुआ था?

जनरल बिपिन रावत का जन्म 16 दिसंबर 1978 को उत्तराखंड के पौड़ी में हुआ था।

4. बिपिन रावत की उम्र कितनी थी?

63 साल (मृत्यु तक)

मैं उम्मीद करता हूँ कि अब आप लोगों को बिपिन रावत का जीवन परिचय | Bipin Rawat Biography in Hindi से जुड़ी सभी जानकरियों के बारें में भी पता चल गया होगा। यह लेख आप लोगों को कैसा लगा हमें कमेंट्स बॉक्स में कमेंट्स लिखकर जरूर बतायें। साथ ही इस लेख को दूसरों के जरूर share करें जो लोग बिपिन रावत के बारे में जानना चाहतें हैं, ताकि सबको इसके बारे में पता चल सके। धन्यवाद!

Leave a Comment