आधुनिक का विलोम शब्द क्या होता है? | Aadhunik Ka Vilom Shabd In Hindi

प्रश्न – आधुनिक का विलोम शब्द क्या होता है?

उत्तर – आधुनिक का विलोम शब्द प्राचीन होता है।

शब्दविलोम
आधुनिकप्राचीन
AadhunikPrachin

विलोम शब्द का सामान्य अर्थ

एक भाषा में किसी भी शब्द के विपरीत अर्थ में प्रयुक्त होने वाले शब्दों को ही ‘विलोम शब्द’ अथवा ‘विपरीतार्थक शब्द’ कहा जाता है। साधारण शब्दों में कहें तो ‘जिन शब्दों से किसी दूसरे शब्द का उल्टा शब्द बनें उन्हें विलोम शब्द या विपरीतार्थक शब्द या विरुद्धार्थी शब्द कहते है। जैसे- हार का जीत, आय का व्यय, आजादी का गुलामी, नवीन का प्राचीन इत्यादि।’

विलोम शब्दों में यह ध्यान रखा जाता है कि यदि कोई शब्द संज्ञा पदबंध है तो उसका विलोम भी संज्ञा पदबंध पर आधारित होना चाहिए। इसी आधार पर विशेषण का विलोम विशेषण पद, क्रिया का विलोम क्रियापद तथा क्रिया-विशेषण का विपरीत क्रिया-विशेषण पद होता है।

किसी शब्द, तत्व, पदार्थ, वस्तु आदि के मूल महत्व और क्षमता को अर्थपूर्ण ढंग से समझने के लिए विपरीत या विलोम शब्द का प्रयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए अग्नि की ज्वाला को बुझाने के लिए उसका काट अर्थात उल्टा जल है जिससे हम अग्नि की ज्वाला को बुझा सकते हैं। अग्नि की ज्वाला में जितनी शक्ति है, जल में उतनी ही शीतलता है।


विलोम संबंधी प्रश्न

प्रश्न – आधुनिक का विलोम शब्द क्या होता है?

उत्तर – प्राचीन

प्रश्न – आधुनिक का विपरीतार्थक क्या है?

उत्तर – प्राचीन

प्रश्न आधुनिक का उल्टा क्या है?

उत्तर – प्राचीन

Question – What is Antonym of Aadhunik in Hindi?

Answer – Prachin


इन्हें भी पढ़े


सम्बंधित कीवर्ड

  • आधुनिक का विलोम शब्द क्या होता है
  • आधुनिक का विलोम शब्द क्या है
  • आधुनिक का विलोम शब्द
  • आधुनिक का विलोम क्या होता है
  • आधुनिक का विलोम शब्द क्या होगा
  • आधुनिक का मींस क्या होता है विलोम शब्द में
  • आधुनिक का विलोम शब्द बताइए
  • Aadhunik ka vilom shabd kya hoga
  • Aadhunik ka vilom kya hota hai
  • Aadhunik ka means kya hota hai vilom shabd me
  • Aadhunik ka vilom shabd
  • Aadhunik ka vilom shabd kya hai
  • Aadhunik ka vilom shabd kya hota hai
  • Aadhunik ka vilom shabd bataiye

नोट :- यदि आपका कोई सवाल है तो हमें कमेंट्स करके पूछ सकते हैं। हम कोशिश करेंगे कि आपके सवाल का जवाब जल्द से जल्द अपनी वेबसाइट (HindiQueries.Com) पर प्रकाशित करें। साथ ही आप भी यदि पढ़ाई से जुड़े कोई भी टॉपिक जो इन्टरनेट पर उपलब्ध नहीं है, आप हमारी वेबसाइट के माध्यम से उसे इन्टरनेट पर प्रकशित कर सकते हैं।

सुधांशु HindiQueries के संस्थापक और सह-संस्थापक हैं। वह पेशे से एक वेब डिज़ाइनर हैं और साथ ही एक उत्साही ब्लॉगर भी हैं जो हमेशा ही आपको सरल शब्दों में बेहतर जानकारी प्रदान करने के प्रयास में रहते हैं।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment

x