अचिंता शुली का जीवन परिचय | Achinta Sheuli Biography in Hindi [Age, Height, Wiki]

अचिंता शुली का जीवन परिचय | Achinta Sheuli Biography in Hindi [Age, Height, Wiki]
अचिंता शुली का जीवन परिचय | Achinta Sheuli Biography in Hindi [Age, Height, Wiki]

अचिंता शुली की जीवनी, अचिंता शुली की कहानी, वेट लिफ्टिंग, कास्ट, कद, उम्र, रिकार्ड्स, धर्म, माता-पिता, शिक्षा, परिवार (Achinta Sheuli Biography in Hindi, Achinta Sheuli Story in Hindi, Age, Birthday, Height, Family, Career, Weight, Girlfriend, Education, Achinta Sheuli News, Achinta Sheuli Commonwealth 2022)

यदि आप अचिंता शुली (भारोत्तोलक) के बारे में विस्तार से जानने के लिए उत्सुक हैं, तो आप सही जगह पर हैं। यहां आपको भारोत्तोलक की जीवनी, उम्र, कद, पत्नी, प्रेमिका, परिवार, माता-पिता, मामले, नेट वर्थ, विकिपीडिया, आदि के अलावा और भी बहुत कुछ की जानकारी मिलेगी।

तो चलिए देखते है।

अचिंता शुली का जीवन परिचय (Achinta Sheuli Biography in Hindi)

अचिंता शुली (Achinta Sheuli) एक भारतीय भारोत्तोलक है जो 73 किलोग्राम भार वर्ग में प्रतिस्पर्धा करते है। उन्होंने 2021 जूनियर विश्व भारोत्तोलन चैंपियनशिप में रजत पदक जीता और दो बार राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप के स्वर्ण पदक विजेता हैं। 2022 के राष्ट्रमंडल खेलों में, उन्होंने 313 किलोग्राम वेट उठाने का रिकॉर्ड बनाया और स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

शुली का जन्म हावड़ा जिले के देउलपुर के प्रतीक शुली और पूर्णिमा शुली के घर हुआ था। उनके पिता एक मैनुअल मजदूर थे जिनकी अप्रैल 2014 में मृत्यु हो गई थी। शुली के बड़े भाई आलोक उनके खेल करियर को आगे बढ़ाने के लिए समर्थन करते हैं।

शुली ने पहली बार वर्ष 2011 में भारोत्तोलन में शुरुआत की, जब वह एक स्थानीय जिम गए जहां उनके बड़े भाई आलोक ने प्रशिक्षण लिया था।

अचिंता शुली का बचपन अत्यधिक गरीबी में बीता है, जहाँ उनके पिता साइकिल रिक्शा चलाते थे और अपने बच्चों की परवरिश के लिए मजदूरी का काम करते थे। परिवार का पेट पालने के लिए अचिंता की मां पूर्णिमा भी छोटे-मोटे काम करती थीं। यह उस समय था जब उन्होंने 2012 में एक जिला बैठक में रजत पदक जीतकर स्थानीय कार्यक्रमों में भाग लेना शुरू किया था।

अचिंता के लिए पेशेवर प्रशिक्षण लेना आसान नहीं था। 2014 में स्थिति और खराब हो गई, जब उनके पिता की एक स्ट्रोक से मृत्यु हो गई, जिससे उनका भाई परिवार का एकमात्र कमाने वाला बन गया।

Also Read – हिमा दास का जीवन परिचय

नाम (Name)अचिंता शुली (Achinta Sheuli)
निक नाम (Nik Name)अचिंता (Achinta)
प्रसिद्द (Famous For)भारतीय भारोत्तोलक के रूप में
जन्म तारीख (Date of birth)24 नवंबर 2001
जन्मदिन (Birthday)24 नवंबर
उम्र (Age)20 वर्ष (साल 2022)
पिता (Father)प्रतीक शुली
माता (Mother)पूर्णिमा शुली
भाई (Brother)आलोक शुली
प्रेमिका (Girlfriend)ज्ञात नहीं
पत्नी (Wife)अविवाहित
जन्म स्थान (Place of born)देउलपुर, पंचला, हावड़ा जिला, पश्चिम बंगाल, भारत
शिक्षा (Education)ज्ञात नहीं
स्कूल (School )ज्ञात नहीं
कॉलेज (Collage)ज्ञात नहीं
राशि (Zodiac Sign)ज्ञात नहीं
पेशा (Occupation)वेटलिफ्टिंग
लम्बाई (Height)5 फीट 4 इंच
वजन (Weight)60 किलो
बॉडी साइज (Body Measurements)32-24-32
बालो का रंग (Hair Color)काला
आँखों का रंग (Eye Color)काला
धर्म/जाति (Religion/Caste)हिन्दू
नागरिकता (Nationality)भारतीय
कुल सम्पत्ति (Net Worth)70 लाख – 1 करोड़

यह भी देखें: जोशना चिनप्पा (स्क्वॉश खिलाड़ी) का जीवन परिचय

अचिंता शुली का करियर

  • अचिंता शुली को आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट के ट्रायल में चुना गया, जहां उन्होंने 2015 में दाखिला लिया। उनके बेहतरीन प्रदर्शन ने उन्हें उसी वर्ष भारतीय राष्ट्रीय शिविर में शामिल होने में मदद की।
  • उन्होंने वर्ष 2016 और 2017 में आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट में अपना प्रशिक्षण जारी रखा, उसके बाद वर्ष 2018 में उन्होंने राष्ट्रीय शिविर में दाखिला लिया और अभी भी उसी से अपना भारोत्तोलन प्रशिक्षण ले रहे हैं।
  • वह 2015 में सुर्खियों में आए, जब उन्होंने कॉमनवेल्थ यूथ चैंपियनशिप में 56 किग्रा स्पर्धा में रजत पदक जीता। बाद में वह 69 किग्रा स्पर्धा में चले गए और 2018 एशियाई युवा चैंपियनशिप में रजत पदक जीता।
  • वर्ष 2018 युवा भारोत्तोलक के लिए एक यादगार वर्ष साबित हुआ, जिसने जूनियर और सीनियर कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप 2018 में स्वर्ण पदक भी जीते।
  • साल 2019 में सैफ गेम्स में जीत के साथ एक और गोल्ड मेडल भी आया।
  • अचिंता ने उस समय 18 साल की उम्र में 2019 में सीनियर नेशनल में भी गोल्ड मेडल जीता था।
  • COVID-19 महामारी लॉकडाउन के बाद, युवा खिलाड़ी ने 2021 में कॉमनवेल्थ सीनियर चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता, उसी वर्ष जूनियर विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीता।

Also Read – लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय

अचिंता शुली कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में

भारोत्तोलक अचिंता शुली ने रविवार को यहां एनईसी हॉल में राष्ट्रमंडल खेलों में 313 किग्रा (143 किग्रा 170 किग्रा) भार उठाकर भारत का तीसरा स्वर्ण पदक जीता।

शुली के प्रतिद्वंद्वियों, मलेशिया के एरी हिदायत मुहम्मद और कनाडा के शाद डार्सिग्नी, क्रमशः दूसरे और तीसरे सर्वश्रेष्ठ भारोत्तोलक के रूप में समाप्त हुए। मुहम्मद ने 303 किग्रा (138 किग्रा 165 किग्रा) उठाकर दूसरा स्थान हासिल किया, जबकि डार्सिग्नी ने कुल 298 किग्रा (135 किग्रा 163 किग्रा) उठाकर तीसरा स्थान हासिल किया।

भारत के स्वर्ण पदक विजेता भारोत्तोलक, शुली ने कल स्नैच वर्ग में तीन क्लीन लिफ्टों – 137 किग्रा, 140 किग्रा और 143 किग्रा को अंजाम दिया है। 143 किग्रा के उनके तीसरे प्रयास ने उन्हें देश के लिए स्वर्ण पदक जीतने में मदद की।

अचिंता शुली के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

1. अचिंता शुली कौन है?

उत्तर- अचिंता शुली एक भारतीय भारोत्तोलक हैं।

2. अचिंता शुली की उम्र कितनी है?

उत्तर- 20 वर्ष (साल 2022)

3. अचिंता शुली की हाइट कितनी है?

उत्तर- 5 फीट 4 इंच

4. अचिंता शुली के माता का नाम क्या है?

उत्तर- पूर्णिमा शुली

5. अचिंता शुली के पिता का नाम क्या है?

उत्तर- प्रतीक शुली

6. अचिंता शुली के भाई का नाम क्या है?

उत्तर- आलोक शुली

मैं उम्मीद करता हूँ कि अब आप लोगों को अचिंता शुली का जीवन परिचय (Achinta Sheuli Biography in Hindi) से जुड़ी सभी जानकरियों के बारें में भी पता चल गया होगा। यह लेख आप लोगों को कैसा लगा हमें कमेंट्स बॉक्स में कमेंट्स लिखकर जरूर बतायें। साथ ही इस लेख को दूसरों के जरूर share करें जो लोग अचिंता शुली (Achinta Sheuli) के बारे में जानना चाहतें हैं, ताकि सबको इसके बारे में पता चल सके। धन्यवाद!

Leave a Comment

x