सड़क सुरक्षा पर निबंध | Sadak Suraksha Par Nibandh

सड़क सुरक्षा पर निबंध – सड़क सुरक्षा एक आम और महत्वपूर्ण विषय है, आम जनता में खासतौर से नये आयु वर्ग के लोगों में अधिक जागरुकता लाने के लिये इसे शिक्षा, सामाजिक जागरुकता आदि जैसे विभिन्न क्षेत्रों से जोड़ा गया है। सभी को सड़क यातायात नियमों की अच्छे से जानकारी होनी चाहिये खासतौर से बच्चे और युवा लोगों को जो महत्वपूर्ण सड़क दुर्घटना के खतरे पर रहते हैं।

सड़क सुरक्षा पर निबंध | Sadak Suraksha Par Nibandh
सड़क सुरक्षा पर निबंध | Sadak Suraksha Par Nibandh

हम रोज़ दफ्तर, स्कूल, कॉलेज और इत्यादि स्थानों पर जाने हेतु सड़क पर चलते है और एक तरफ से दूसरी तरफ सड़क पार करते है। सड़क पार करते वक़्त हमे कुछ ज़रूरी निर्देशों का पालन करना पड़ता है। सड़क के कुछ कायदे कानून है। अगर कोई भी इसका उल्लंघन करता है तो उसे निश्चित तौर पर जुर्माना भरना पड़ता या फिर कोई दुर्घटना घटती है।

आँकड़ों के अनुसार (विश्व स्वास्थ्य संगठन, 2008), ऐसा पाया गया है कि अस्पतालों में ज्यादा भर्ती होने का मामला और मृत्यु की मुख्य वजह सड़क दुर्घटना है। आज के इस आर्टिकल में सड़क सुरक्षा पर निबंध (Sadak Suraksha Par Nibandh) लेकर आये हैं जोकि स्कूल में छात्रों के लिए काफी उपयोगी हो सकता हैं.

दशहरा पर निबंध

सड़क सुरक्षा पर निबंध (Sadak Suraksha Par Nibandh)

सड़क सुरक्षा पर निबंध निम्नलिखित हैं:

प्रस्तावना

जैसा कि आप सभी जानते है आज के युग में हर एक इंसान को अपने लक्ष्य और मंजिल तक पहुंचने कि बहुत अधिक जल्दी होती है । वह भूल जाता है कि सड़क पर चलते समय सरकार द्वारा बनाये गए नियमों का पालन करना अत्याधिक आवश्यक है। चाहे वह सड़क पर वाहन का प्रयोग कर रहा हो या वह व्यक्ति पैदल चल रहा हो उसे भी ट्रैफिक Rules को फॉलो करना चाहिए। लेकिन ऐसा नहीं होता और वह सङक सुरछा नियमो का उलंघन कर जाते है। जिसके चलते सड़क हादसों का शिकार हो जाते है। जिसकी भरपाई उन्हे स्वम यातायात नियमों का उलंघन करते हुए सड़क हादसों, छोटी या बड़ी चोटें यहां तक की अपनी मृत्यु के द्वारा करनी पड़ती है।

सड़क सुरक्षा नियम:

  • सड़क पर चलते समय हमेशा लेफ्ट साइड का ही उपयोग करना चाहिए।
  • वाहन चालक धीमी गति से चलाने वाले वाहनों को अपना वाहन बायी ओर तथा तीव्र गति से चलाने वाले वाहन को दायी ओर चलना चाहिए।
  • ड्राइवर को ज्यादा स्पीड से वाहन नहीं चलना चाहिए।
  • कभी भी दौड़ते हुएसड़क पार नहीं करनी चाहिए।
  • मोड पर समय इंडिकेटर का Use करना चाहिए।
  • Street Lights अथवा Traffic Signal का पालन करना चाहिए।
  • Red Light जलने पर तुरंत रुक जाये और Yellow Light होने पर रुके रहे और Green Light के होने का Wait करें। जब तक ग्रीन लाइट ना हो तब तक चौराहे को Cross ना करें।
  • गाड़ी का Use करते समय हमेशा आइने का प्रयोग करें, जिससे कि आपके पीछे से आने वाली गाड़ियों से Alert रह पाएं।
  • कभी शराब पीकर वाहन ना चलाये।
  • पैदल चलने वाले लोग हमेशा Footpath का इस्तेमाल करें, यदि Footpath ना हो तो हमेशा Left Side का उपयोग करना चाहिए।
  • जब तक बच्चों कि आयु 18 वर्ष ना हो तब तक उन्हे वाहन का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • गाड़ी चलाते समय हमेशा Driving License और वहां के सभी जरुरी papers आपके पास होने चाहिए।
  • वाहन का उपयोग करते वक्त Mobile Phone का इस्तेमाल न करें, तथा Music ना सुने।
महात्मा गांधी पर निबंध

सड़क हादसे के मुख्य कारण

  • सड़क पर गड्ढे और सड़कों की Pathetic Condition होना।
  • Traffic Rules को अनदेखा (Ignore) करना।
  • बिना हेलमेट (Helmet) एवं सीट बेल्ट (Seat belt) के बिना वाहन का प्रयोग करना।
  • तीव्र गति से वाहन चलाना।
  • सड़क पर गाड़ियों को Overtake करना।
  • Traffic Signals का Knowledge का ना होना।
  • शराब पीकर गाड़ी चलाना।
  • पैदल चलने वाले लोगों के द्धारा अचानक से सड़क पार करना।
  • Indicator का प्रयोग ना करना।
  • Road Safety Regulations की Information का ना होना।

यातायात के नियम का महत्व:

आज के समय में सड़क पर होने वाले हादसे सड़क दुर्घटना और मृत्यु से बचने के लिए यातायात नियमों का अत्याधिक महत्व है क्योकि यह Road पर चलने वाले सभी लोगों की सुरक्षा के लिए Very Important है और हम सिर्फ Reported Accidents तथा मृत्यु के बारे में Based on national statistical data सड़क यातायात सुरक्षा के महत्व का समाधान कर सकते हैं। Based on National Statistical Data से पता लगाया जा सकता है कि Aprox 42% Cases में पैदल चलने वाले लोग और एक Type से Road user Include है।

बहुजन हिताय बहुजन सुखाय पर निबंध

बचने के उपाय

  • सड़क पर गुजर ने वाले हर एक व्यक्ति (Especially driver) को Left Side चलना चाहिए एवं अन्य सभी गाड़ियो को Opposite Direction से जाने देना चाहिए।
  • Road पर Turning Point पर ड्राइवरों को Slow Speed में चलना चाहिए।
  • Public Place में हमेशा Road पर सावधानी पूर्वक गुजरना चाहिए।
  • वाहन की स्पीड को Set Limit को Cross नहीं करना चाहिए विशेषकर उन क्षेत्रों में जहां Schools, Colony, Hospital और Market इत्यादि है।
  • सड़क पर वाहन का प्रयोग करते समय और Travel करते हुए कभी भी शीघ्रता नही करनी चाहिए।
  • कभी भी Signals का उलंघन ना करें अथवा जल्दबाजी के दौरान Running करते हुए रास्ते को पार ना करें।
  • कभी भी किसी भी वाहन को जैसे की Bus, Car, रिक्शा इत्यादि को भागकर उसमे चढ़ने के लिए कोशिश नहीं करनी चाहिए।

निष्कर्ष

India में Traffic Accidents लोगो की मृत्यु के मुख्य कारणों में से एक हैं और इसके चलते बड़ी संख्या में परिवार प्रभावित होते है। इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण विषय है कि सभी लोग को Traffic Rules का सख्ती के साथ पालन करना अनिवार्य है तथा Road पर चलने वाले सभी दूसरे लोगों का एवं अन्य वाहनों को ध्यान में रखते हुए सदैव Safe Drive करनी चाहिए “Durghatna se der bhali”।

जब तक सभी एकजुट होकर ध्यान से यातायात नियम और लोगों को सड़क नियमों के प्रति जागरूक नहीं होंगे। तब तक Continually बढ़ रहे सड़क पर होने वाले हादसों कमी नहीं आएगी। और इसलिए सब Traffic Rules को Follow करने का संकल्प लें। अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें।

बाल दिवस पर निबंध

सड़क सुरक्षा पर निबंध – FAQs

सड़क सुरक्षा क्या होता है?

सड़क यातायात सुरक्षा एक प्रकार का विधि या उपाय है जिससे सड़क दुर्घटना में लोगों को चोट लगने और उससे मौत होने आदि घटनाओं को कम करने का प्रयास किया जाता है।

सड़क सुरक्षा क्यों आवश्यक है?

सड़क हादसों और चोट के मामलों की संख्या को कम करने के साथ ही सावधान और सुरक्षित होने के लिये सभी आयु वर्ग के लोगों के लिये सड़क सुरक्षा बहुत जरुरी है।

सड़क सुरक्षा कब मनाया जाता है?

भारत में सड़क सुरक्षा सप्ताह 11 जनवरी (शुक्रवार) से 17 जनवरी (गुरुवार) तक मनाया जाएगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय और राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के दिशानिर्देशों के तहत, भारत ने 23 से 30 अप्रैल, 2018 तक अपना 29 वां सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया।

Leave a Comment